Breaking

Coronavirus क्या है ? जाने What is Coronavirus ? Know

coronavirus
Coronavirus Viruses का एक बड़ा समूह है और इसे SARS व MERS वायरस का एक हिस्सा मना जा रहा है। इसका पूरा नाम HCOV ( human corona virus ) है इसे Novel Corona Virus ( n -Con )कहा जाता है।मनुष्यों में पहली बार कोरोना वायरस की खोज करने वाली महिला स्कॉटलैंड के एक बस ड्राइवर की बेटी जून अलमेडा ने 1954 मे लंदन के सेंट थॉमस अस्पताल मे स्थित लैब मे की थी। वायरोलॉजी  जून अलमेडा का जन्म 1930 मे स्कॉट्लैंड के ग्लासगो शहर में एक साधारण परिवार में हुआ था। इस वायरस का नाम डॉक्टर टायरेल ,डॉक्टर अलमेडा और सेंट थॉमस मेडिकल संस्थान के प्रोफेसर टोनी वॉटसन ने इस वायरस की उची -नीची बनावट को देखते हुए इसका नाम कोरोना वायरस रखा।  यह बताया जाता है कि  यह वायरस सबसे पहले चीन के वुहान (wuhan ) शहर मे सी -फ़ूड बाजार से जानवरो से मनुष्य मे फैला। जहां लगभग 41 लोगों की मौत इस निमोनिया की तरह बीमारी के कारण हुई है और 800से ज्यादा लोग इस बीमारी से संक्रमित हुए। जिसके कारण चीन के 13 शहरों मे पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद कर दिए।coronavirus का खतरा चीन के बाद पुरे विश्व मंडरा रहा है कोरोना वायरस की इस महामारी के कारण वुहान शहर को भूतिहा शहर या ghost City कहा जाने लगा। वैज्ञानिको के अनुसार यह वायरस थंड के मौसम मे ही सक्रीय होता है इसकी पहचान 1960 के दशक मे हुई थी। चीन के आलावा यह वायरस जापान,दक्षिण कोरिया,थाईलैंड,सिंगापूर,ताईवान,वियतनाम अमेरिका और भारत मे भी फैल चुका है इसके चलते भारत मे भी सरकार द्वारा कड़ी निगरानी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रखी गई है जैसे - दिल्ली ,मुंबई ,चेन्नई ,बेंगलुरु ,कोच्ची ,हैदराबाद और कोलकाता। दूसरे देश से आने -जाने वाले लोगो की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है। विशेष कर चीन से आने वाले लोगो की जांच की जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एशिया के सभी देशो के लोगो को एहतियात बरतने को कहा है।

Symptoms of corona virus

आमतोर पर कोरोना वायरस के लक्षण निमोनिया जैसे दिखाई देते है जैसे -
  • सिर दर्द होना। 
  • नॉक से पानी बहना। 
  • बार -बार खासी की शिकायत होना। गले में खरास बने रहना। 
  • बार -बार बुखार आना।  
  • बार-बार जुकाम और छीके आना 
  • अस्थमा का बिगड़ जाना। 
  • निमोनिया हो जाना। 
  • फेफड़ों मे सूजन आ जाना। 

Corona virus से बचने के उपाय

इस वायरस से बचने के लिए अभी तक कोई मेडिसिन और वैक्सीन नहीं बनाई गई है यह वायरस परमाणु बम से भी ज्यादा घातक है क्योकि परमाणु बम का तो एक सिमित दायरा रहता है लेकिन ये वायरस एक व्यक्ति से दूसरे मे और एक देश से दूसरे देश मे फेल सकता है। 
who के अनुसार इस वायरस से बचने के लिए अपने हाथों को दिन मे कई बार साफ पानी साबुन, हैंडवाश से और अलकोहल युक्त हैंड रब से साफ साफ करे। 
  • इस वायरस से बचने के लिए खासते और छीकते समय नॉक और मुँह को रुमाल से ढकना चाहिए। और मॉस्क लगाना चाहिए। 
  • सर्दी जुकाम और फ्लू जैसे लक्षण वाले मरीजों से दुरी बनाए रखना चाहिए। तथा भीड़ -भाड़ वाली जगह पर न जाये। 
  • सी -फ़ूड अंडे और मीट को कभी भी कच्चे नहीं खाना चाहिए। 
  • जंगली जानवरों से सावधानी बरतना चाहिए।
  • हाथ मिलाने की जगह दोनों हाथो से थोड़ी दूर से प्रणाम कर सकते है।
'' Coronavirus - जीवन में आप कितने भी पॉजिटिव हों वर्त्तमान में आपके रिपोर्ट नेगेटिव आना बहुत जरुरी है !'' 

No comments:

Post a Comment